विषय:- ‘हिमांजलि’ पत्रिका के अंक 22वें हेतु रचनाएं आमंत्रित।

संस्थान के राजभाषा एकक की अर्धवार्षिक पत्रिका ‘हिमांजलि’ के अंक-22 (जुलाई-दिसम्बर 2020) के लिए रचनाएँ आमंत्रित (आलेख, निबंध, कविता, कहानी पुस्तक एवं फिल्म समीक्षा आदि) हैं। रचनाएँ 15 दिसम्बर 2020 तक ई-मेल rajbhasha@iias.ac.in  पर प्रेषित करें। कृपया रचनाएँ भेजने से पहले सुनिश्चित करें कि-
1. रचनाएँ सर्वथा अप्रकाशित और मौलिक हों।
2. रचनाएँ यथासंभव साफ्ट कॉपी में टंकित (टाइप्ड) ही भेजें। आप यथासुविधा कृतिदेव या चाणक्य या कोई भी युनिकोड फाँट इस्तेमाल कर सकते हैं।
3. पत्रिका में चंद्रबिंदु (हँसना) और आगत शब्दों में यथानियम नुक्ते (जरूर) का इस्तेमाल किया जाता है।
4. यदि आप शोध लेख भेज रहे हैं, तो यह देख लें कि इसमें संदर्भीकरण (citation) आदि किसी स्टाइल मेन्युएल (शिकागो या हार्वर्ड या एम.एल.ए.) में हो।
5. शोध लेखों में ‘फुटनोट’ के बजाय ‘एंड नोट’ ही इस्तेमाल किया जाता है। आप भी तदनुसार करेंगे, तो हमें सुविधा होगी। शोधलेख 3000 शब्दों से अधिक न हो।
6. पुस्तक समीक्षा के लिए लेखक/प्रकाशक से पुस्तक की दो प्रतियाँ अपेक्षित है ।
प्रेषित की जाने वाली रचना के साथ लेखक को अपना पूर्ण परिचय तथा रचना के मौलिक व अप्रकाशित होने के बारे में प्रमाण-पत्र संलग्न करना होगा। प्राप्त रचना को पत्रिका में सम्मिलित करने या न करन का अधिकार संपादक मण्डल के पास सुरक्षित रहेगा। प्रकाशित रचनाओं के लेखकों को उचित मानदेय भी दिया जाएगा।
(रविन्द्र सैनी)
सचिव (राजभाषा)